Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 186218
Date of publication : 14/3/2017 20:0
Hit : 174

अवैध राष्ट्र हिज़्बुल्लाह की लोकप्रियता एवं सैन्य शक्ति से भयभीत : नबील फ़ारूक़

सीरिया के प्रतिरोध और क्षेत्र में वहाबी योजना की विफलता ने साम्राज्यवाद की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है ।

विलायत पोर्टल :
हिज़्बुल्लाह की केंद्रीय समिति के सदस्य नबील फ़ारूक़ ने कहा है कि हिज़्बुल्लाह सैन्य शक्ति और लोकप्रियता के मामले में अपने सुनहरे दौर से गुज़र रहा है । नबील फ़ारूक़ ने शहीद जिहाद हुसैन महमूद की पुण्यतिथि पर आयोजित समारोह में कहा कि नेतन्याहू की रूस यात्रा ने सच्चाई को उजागर कर दिया है । ज्ञात रहे कि ज़ायोनी प्रधानमंत्री ने कहा था कि वह सीरिया में हिज़्बुल्लाह की सफलताओं से बहुत चिंतित है । ज़ायोनी राष्ट्र ने सोचा था कि सीरिया संकट में उलझ कर प्रतिरोधी आंदोलन और सीरिया की स्थिति कमज़ोर हो जाएगी । लेकिन सीरिया के प्रतिरोध और क्षेत्र में वहाबी योजना की विफलता ने साम्राज्यवाद की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है । उन्होंने कहा कि हिज़्बुल्लाह की बढ़ती सैन्य शक्ति एवं लोकप्रियता तथा राष्ट्रपति मिशल औन के हिज़्बुल्लाह को समर्थन दिए जाने से अवैध राष्ट्र भयभीत है । उन्होंने कहा कि सीरिया में मिलने वाली निरंतर सफलताओं से हिज़्बुल्लाह की लोकप्रियता में वृद्धि हुई है । हिज़्बुल्लाह के मिसाइलों से ज़ायोनी राष्ट्र में मची खलबली हमारे लिए गौरव की बात है । क्या कोई बता सकता है के अवैध राष्ट्र किसी अरब राष्ट्र की मिसाइलों से भयभीत हुआ हो ? कोई एक ही दिन  बताओ जब इस्राईल किसी अरब मिसाइल से डरा हो ।
.....................
तसनीम न्यूज़


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

नोबेल विजेता की मांग, यमन युद्ध का हर्जाना दें सऊदी अरब और अमीरात । फ़िलिस्तीन का संकट लेबनान का संकट है , क़ुद्स का यहूदीकरण नहीं होने देंगे : मिशेल औन महत्त्वहीन हो चुका है खाड़ी सहयोग परिषद, पुनर्गठन एकमात्र उपाय : क़तर एयरपोर्ट के बदले एयरपोर्ट, दमिश्क़ पर हमला हुआ तो तल अवीव की ख़ैर नहीं ! तुर्की को SDF की कड़ी चेतावनी, कुर्द बलों को निशाना बनाया तो पलटवार के लिए रहे तैयार । दमिश्क़, राष्ट्रपति बश्शार असद ने दी 16500 लोगों को आम माफ़ी । यमन का ऐलान, वारिस कहें तो हम ख़ाशुक़जी के शव लेने की प्रक्रिया शुरू करें । प्योंगयांग और सिओल मिलकर करेंगे 2032 ओलंपिक की मेज़बानी ईरान अमेरिका के आगे नहीं झुकेगा, अन्य देशों को भी प्रतिबंधों के सामने डटने का हुनर सिखाएंगे । सऊदी अरब के पास तेल ना होता तो आले सऊद भूखे मर जाते : लिंडसे ग्राहम ईरानी हैकर्स ने अमेरिकी अधिकारियों के ईमेल हैक किए ! ईरान, रूस और चीन से युद्ध के लिए तैयार रहे ब्रिटेन : जनरल कार्टर हमास की ज़ायोनी अतिक्रमणकारियों को चेतावनी, हमारे देश से से निकल जाओ । पाकिस्तान में इतिहास का सबसे बड़ा निवेश करने वाला है सऊदी अरब नेतन्याहू की धमकी, अस्तित्व की जंग लड़ रहा इस्राईल अपनी रक्षा के लिए कुछ भी करेगा ।