Tuesday - 2018 July 17
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 186089
Date of publication : 7/3/2017 19:47
Hit : 413

सीरियाई बच्चों के तन व मन पर पड़ने वाले अदृश्य घावों की एक दुखद रिपोर्ट।

४८% लोगों का कहना है कि जंग के बाद से उन्होंने ऐसे बच्चे देखें हैं जो बोलने की ताक़त खो चुके है अर्थात गूंगे हो गए है तथा कुछ बच्चे हकलाने लगे हैं तथा कुछ बोलते हुए कठिनाई महसूस करते हैं


विलायत पोर्टल : बाल अधिकारों के लिए काम करने वाली एक संस्था का कहना है कि लंबे युद्ध और डर एवं भय के माहौल के कारण सीरियन बच्चे मानसिक तनाव और जानलेवा पीड़ा से गुज़र रहे हैं। SAVE CHILDERN की रिपोर्ट के अनुसार अगर सीरियन बच्चों की स्थिति को जल्द ही सुधारा नहीं गया तो पूरी एक पीढ़ी को वह नुकसान उठाना पड़ेगा जिसकी भरपाई असंभव है।
सर्वे के अनुसार सीरियन बच्चों में जंग से उपजे डर व भय के कारण रात को बिस्तर गीला करना, अपने आप को नुकसान पहुँचाना, आत्महत्या की कोशिश एवं हिंसक व्यवहार जैसी घटनाएं बढ़ रही है।
२०११ से युद्ध पीड़ित सीरिया में बाल स्थिति को लेकर यह सबसे बड़ा सर्वे है। अदृश्य घाव नामक यह सर्वे सीरियन बच्चों की भयावह मनोस्थिति और मानसिक तनाव को भलीभांति स्पष्ट करता है इस सर्वे में निम्नलिखित नतीजे सामने आये हैं।
१. सभी बच्चों और ८४% बड़ों के अनुसार बच्चों में उपजे डर और मानसिक तनाव का कारण जंग व बमबारी है। इस सर्वे में हिस्सा लेने वाले २/३ बच्चों ने बमबारी में अपने किसी प्रिय को खोया है या उनका घर परिवार इस जंग में उजड़ गया है।
२. ७१% बच्चे बिस्तर गीला करने या बे इरादा पेशाब करने के रोग से ग्रस्त हो गए हैं जिसका कारण (PTSD) घटना के बाद उभरा तनाव है ।
३. ४८% लोगों का कहना है कि जंग के बाद से उन्होंने ऐसे बच्चे देखें हैं जो बोलने की ताक़त खो चुके है अर्थात गूंगे हो गए है तथा कुछ बच्चे हकलाने लगे हैं तथा कुछ बोलते हुए कठिनाई महसूस करते हैं ।
४. कम से कम २.३ मिलियन बच्चे सीरिया से भाग गए है रिपोर्ट के अनुसार बच्चों में व्याप्त यह तनाव उनके मानसिक एवं शारीरक विकास में बाधा बन सकता है तथा उन्हें नशे और ड्रग्स की ओर ले जा सकता है ।

............. प्रेस टीवी


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :